अभिनेत्री ने सुनाई आपबीतीः मेरा रेप किया गया, बॉस के साथ नहीं सोई तो नौकरी से निकाला

90

मशहूर अभिनेत्री जेना फोंडा ने कहा कि महिलाओं के अभियान ने हमें यह महसूस कराया है कि बलात्कार और छेड़छाड़ में हमारी गलती नहीं है. उन्होंने कहा कि मीटू और टाइम्स अप अभियानों के बाद हम यह महसूस करने लगे कि अगर उनके साथ यौन दुर्व्यवहार या बलात्कार होता है तो यह हमारी गलती नहीं.

फोंडा (81) ने ब्रिटेन की पत्रिका ‘ओके’ को दिये साक्षात्कार में कहा कि उन्होंने अपने जीवन में कई बार यह सबकुछ झेला है और उन्हें खुशी है कि आखिरकार महिलाओं की सुनी जा रही है.

फोंडा ने कहा, “बचपन में मेरा बलात्कार किया गया, यौन उत्पीड़न किया गया, बॉस के साथ नहीं सोने पर मुझे नौकरी से निकाल दिया गया. मुझे लगा कि यह मेरी गलती है कि मैं सही चीजें नहीं कर और कह सकी. महिलाओं के आंदोलनों की सबसे अच्छी चीज है कि हम यह महसूस करने लगे हैं कि बलात्कार और उत्पीड़न हमारी गलती नहीं है. हमारा उत्पीड़न किया गया, जो सही नहीं.”

जेना फोंडा के अलावा अभिनेत्री जीना डेविस ने भी अपने साथ हुए अत्याचारों का खुलासा किया है. उन्होंने बताया कि पहले यह बेहद आम था. एक दफा जब वो ऑडिशन दे रही थीं तब डायरेक्टर ने उन्हें जबरन अपनी गोंद में बिठा लिया था.

उन्होंने कहा कि उस वक्त वो काफी असहज महसूस कर रही थीं. लेकिन तब वो ऐसे दबाव में थीं कि उन्होंने कुछ नहीं कहा.

उल्लेखनीय है कि ऐसी कहानियां कई दफे बॉलीवुड जगत से भी सुनाई पड़ती हैं. सूटिंग के दौरान महज 14 वर्ष की रेखा के साथ पांच मिनट का लंबा किसिंग सीन भी काफी विवादों में रहा था. अभिनेत्री रेखा ने खुद इस बारे में कहा था कि वो इस सीन के बाद रोते हुए अपने कमरे में चली गई थीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here