रोहित-मयंक ने जड़ा ‘तिहरा शतक’, कई बड़े रिकॉर्ड किए ध्वस्त

135

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ रोहित शर्मा और मयंक अग्रवाल की जोड़ी ने पहले विकेट के लिए रिकॉर्ड 317 रन की साझेदारी कर इतिहास रच दिया. इस दौरान जहां मयंक ने अपने टेस्ट करयिर का पहला शतक जड़ा, वहीं रोहित शर्मा 176 रन बनाकर दक्षिण अफ्रीकी स्पिनर केशव महाराज का शिकार बने. उन्हें क्विंटन डी कॉक ने स्टंप आउट किया. हालांकि अपनी इस तिहरी शतकीय साझेदारी के दौरान मयंक और रोहित ने टेस्ट क्रिकेट के कई रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए. भारत और दक्षिण अफ्रीका की टीमें विशाखापत्तनम में तीन मैचों की सीरीज का पहला टेस्ट खेल रही हैं.

मयंक अग्रवाल और रोहित शर्मा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ शतक लगाने वाली दुनिया की पहली ओपनिंग जोड़ी बन गई है.

इस ओपनिंग जोड़ी ने दोनों देशों के बीच हुए सभी टेस्ट में सर्वाधिक रनों की साझेदारी का रिकॉर्ड भी कायम किया. इससे पहले कोलकाता में साल 1996 में गैरी कर्स्टन और एंड्रयू हडसन ने पहले विकेट के लिए भारत के खिलाफ 236 रनों की साझेदारी की थी.

रोहित और मयंक की जोड़ी दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तिहरी शतकीय साझेदारी करने वाली भी पहली भारतीय ओपनिंग जोड़ी बन गई. साथ ही ये तीसरा मौका है जब भारतीय ओपनरों ने 300 से ज्यादा रन की साझेदारी की है.

मयंक और रोहित की साझेदारी एक और मायने में खास रही. यह जोड़ी घरेलू जमीन पर अपनी पहली ही पारी में शतक लगाने वाली भी पहली भारतीय जोड़ी बन गई है.

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ यह भारत की सर्वाधिक ओपनिंग साझेदारी है. इससे पहले साल 2004 में कानपुर टेस्ट में वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ओपनिंग जोड़ी के तौर पर 218 रन जोड़े थे.

दसवां मौका दो शतकों का
भारत के टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में ये दसवां मौका है जब टीम के दोनों ओपनरों ने एक ही पारी में शतक लगाए हैं. इससे पहले साल 2018 में अफगानिस्तान के खिलाफ शिखर धवन और मुरली विजय ने ये कारनामा अंजाम दिया था. हालांकि मयंक और रोहित की पार्टनरशिप तब टूट गई जब रोहित दक्षिण अफ्रीकी स्पिनर केशव महाराज की गेंद पर स्टंप आउट हो गए. रोहित ने 176 रन बनाए. वे टेस्ट क्रिकेट में अपने सर्वाधिक स्कोर से महज 1 रन पीछे रह गए.

बता दें कि रोहित शर्मा का ये 28वां टेस्ट है, लेकिन इससे पहले 27 टेस्ट में वे मध्यक्रम के बल्लेबाज के तौर पर मैदान पर उतरे थे. ये पहला मौका है जब रोहित बतौर ओपनर टेस्ट मैच में बल्लेबाजी के लिए मैदान पर पहुंचे. वहीं मयंक अग्रवाल का ये पांचवां टेस्ट मैच है. इससे पहले सभी चारों मैच उन्होंने विदेशी जमीन पर खेले थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here