शूटिंग: दीपक ने भारत के लिए 10वां कोटा हासिल किया, मनु भाकर ने जीता गोल्ड

109

दोहा
भारतीय शूटर दीपक कुमार ने 14वीं एशियाई निशानेबाजी चैंपियनशिप में मंगलवार को अपने जन्मदिन पर पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल में ब्रॉन्ज मेडल जीता। इस जीत के साथ उन्होंने भारत के लिए तोक्यो ओलिंपिक का दसवां कोटा भी हासिल किया। इसके बाद मनु भाकर ने भी महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा में गोल्ड मेडल जीता। जकार्ता एशियाई खेलों के सिल्वर मेडलिस्ट दीपक ने टूर्नमेंट के पहले दिन फाइनल में 227.8 अंक बनाए और तीसरे स्थान पर रहे।

इससे उन्होंने तोक्यो-2020 के लिए कोटा भी हासिल किया। बाद में 17 बरस की भाकर ने 244.3 का स्कोर करके अपने वर्ग में गोल्ड जीता। वह मई में म्यूनिख वर्ल्ड कप के जरिये पहले ही ओलिंपिक कोटा हासिल कर चुकी हैं। चीन की कियान वांग और रेंशिन जियांग ने क्रमश: सिल्वर और ब्रॉन्ज जीता। भारत की यशस्विनी सिंह देशवाल छठे और अन्नु राज सिंह 20वें स्थान पर रहीं। भारतीय तिकड़ी ने 1731 अंक जुटाकर ब्रॉन्ज जीता।

कोरिया को टीम वर्ग में गोल्ड और चीन को सिल्वर मेडल मिला। वहीं मंगलवार को 32वां जन्मदिन मना रहे दीपक ने लुसैल निशानेबाजी परिसर में तीसरे स्थान पर रहकर क्वॉलिफाइ किया था। उन्होंने 103.1, 104.8 , 104.6, 105.0, 105.6 और 103.7 के साथ क्वॉलिफाइंग में कुल 626.8 अंक बनाकर तीसरे स्थान पर रहकर 8 खिलाड़ियों के फाइनल में प्रवेश किया था। पिछले साल गुआडलाजारा आईएसएसएफ वर्ल्ड कप में ब्रॉन्ज जीतने वाले दीपक ने फाइनल में 8.9 अंक से शुरुआत की लेकिन इसके बाद उन्होंने लगातार 9 स्कोर 10 या इससे अधिक अंक के बनाए और तीसरे स्थान पर रहे।

इस तरह से उन्होंने प्रतियोगिता के पहले दिन ही मेडल और ओलिंपिक कोटा भारत को दिलाया। दीपक पुरुषों की 10 मीटर एयर राइफल स्पर्धा में ओलिंपिक कोटा हासिल करने वाले दूसरे भारतीय निशानेबाज हैं। उनसे पहले दिव्यांश सिंह पंवार ने अप्रैल में कोटा हासिल किया था। चीन के युकुन लियु (250.5) ने गोल्ड मेडल जीता। उन्होंने अपने सभी प्रयासों में 10 या इससे अधिक अंक बनाए।

चीन के ही हाओनान यु (249.1) ने सिल्वर मेडल जीता। चीन ने हालांकि इस स्पर्धा में पहले ही दो कोटा स्थान हासिल कर दिए थे, इसलिए उन्हें कोई कोटा नहीं मिला। एक देश किसी स्पर्धा में अधिकतम दो कोटा स्थान हासिल कर सकता है। भारत इस चैंपियनशिप से पहले ही तोक्यो के लिए 9 कोटा स्थान हासिल कर चुका था तथा वह एशियाई क्षेत्र में चीन (25 कोटा), कोरिया (12) और मेजबान जापान (12) के बाद चौथे नंबर पर है।

इस स्पर्धा में भारत के तीन निशानेबाजों में सबसे अधिक अनुभवी दीपक अपेक्षाओं पर खरे उतरे और कोटा स्थान हासिल करने में सफल रहे। अन्य भारतीयों में किरण अंकुश जाधव 14वें और यशवर्धन 30वें स्थान पर रहे। इस प्रतियोगिता में कुल 38 कोटा स्थान दांव पर लगे हैं। भारत ने यहां 41 सदस्यीय टीम उतारी है। निशानेबाजों के पास अगले साल जुलाई अगस्त में होने वाले ओलिंपिक गेम्स के लिए कोटा स्थान हासिल करने का यह आखिरी मौका है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here