ISSF World Cup Final : दिव्यांश पंवार ने दिलाया भारत को तीसरा गोल्ड मेडल

127

साल के आखिरी शूटिंग वर्ल्ड कप आईएसएसएफ वर्ल्ड कप फाइनल्स में गुरुवार को भारत ने तीन गोल्ड मेडल हासिल किए. मनु भाकर और इलावेनिल वालारिवान के बाद युवा शूटर दिव्यांश सिंह पंवार ने पहले दिन भारत की गोल्डन हैट्रिक पूरी की. दिव्यांश ने 10 मीटर एयर राइफल में गोल्ड मेडल हासिल किया. भारत तीन स्वर्ण जीतकर तालिका में शीर्ष पर है जबकि चीन दूसरे स्थान पर है.

दिव्यांश ने 250.1 अंको के साथ पहला स्थान हासिल किया वहीं हंगरी के पेनी इसतवान ने 250.0 अकों के साथ सिल्वर और जेनी पैट्रिक ने 228.4 अंको के साथ ब्रॉन्ज मेडल जीता. 17 साल के दिव्यांश ने इस साल बीजिंग में हुए वर्ल्ड कप में सिल्वर मेडल जीतकर ओलिंपिक कोटा भी हासिल किया था. वहीं म्यूनिख वर्ल्ड कप में उन्होंने मिक्स्ड टीम इवेंट में अंजुम मुद्गिल के साथ गोल्ड मेडल जीता था. क्वालिफाइंग राउंड में दिव्यांश 627.1 अंको के साथ तीसरे स्थान पर रहे थे और फाइनल में प्रवेश किया था.

मनु भाकर और इलावेनिल ने जीता गोल्ड मेडल

इससे पहले 17 साल की मनु भाकर ने जूनियर विश्व रिकॉर्ड के साथ 244.7 का स्कोर करके गोल्ड मेडल जीता. भारत की यशस्विनी सिंह देसवाल छठे स्थान पर रही. वहीं इलावेनिल ने महिलाओं की दस मीटर एयर राइफल में पहला स्थान हासिल किया. बुधवार को मनु भाकर 25 मीटर पिस्टल में फाइनल में पहुंती थी लेकिन मेडल हासिल नहीं कर पाईं थी. गुरुवार को गोल्ड मेडल के साथ उन्होंने बुधवार की कसर पूरी की.

भाकर के वर्ग में सर्बिया की जोराना अरूनोविच ने रजत और चीन की कियान वांग ने कांस्य पदक जीता. इलावेनिल ने 250.8 स्कोर करके ताइवान की लिन यिंग शिन को पछाड़ा. रोमानिया की लौरा जार्जेटा कोमान तीसरे स्थान पर रही. मेहुली घेाष छठे स्थान पर रही. इस जीत के साथ ही यह लगभग यह हो गया कि इलावेनिल साल का अंत वर्ल्ड नंबर एक के तौर पर करेंगी.

पुरुष वर्ग के 10 मीटर पिस्टल इवेंट में अभिषेक वर्मा और युवा शूटर सौरभ चौधरी ने फाइनल के लिए क्वालिफाई कर लिया था लेकिन वे पोडियम हासिल करने से चूक गए और उन्हें क्रमश : पांचवें और छठे स्थान से संतोष करना पड़ा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here