U17 फुटबॉल टूर्नामेंट: थाईलैंड को हराकर भारत फाइनल में, स्वीडन से होगा मुकाबला

99

कृतिना देवी के आखिरी क्षणों में किए गए गोल से भारत ने मंगलवार को आखिरी राउंड रोबिन लीग मैच में थाईलैंड को 1-0 से हराकर तीन देशों के अंडर-17 महिला फुटबॉल टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनायी जहां उसका सामना गुरुवार को स्वीडन से होगा.

मैच का एकमात्र गोल कृतिना ने 90+1 मिनट में किया. उन्होंने तब विरोधी टीम की गोलकीपर पावरिसा होमीयामियेन की गलती का फायदा उठाया. थाईलैंड को उनकी यह गलती महंगी पड़ी क्योंकि मैच ड्रॉ होने पर उनकी टीम फाइनल में पहुंच जाती.

कृतिना के शॉट ने तोड़ी भारत की उम्मीद
कृतिना के लंबे शॉट का थाई गोलकीपर सही अनुमान नहीं लगा पायी और गेंद गोल के अंदर चली गयी. उभारतीय कोच थामस डेनरबाइ ने कहा कि उनकी टीम जीत की हकदार थी. उन्होंने कहा, ‘आप इसे देख सकते है – डिफेंस, मिडफील्ड, आक्रमण हर विभाग में खिलाड़ी अच्छा कर रही है. हमारा लक्ष्य लंबे समय का है और हम उसमें ढलने की कोशिश कर रहे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘नये कोच के साथ खिलाड़ियों को सामंजस्य बैठाने में थोड़ा समय लगता है. मुझे लगता है कि वे टीम की योजना को मैदान में उतरने के मामले में अच्छा कर रही हैं.

अंडर-17 टीम को 0-3 से मिली हार
भारत की अंडर-17 महिला टीम ने तीन देशों के फुटबॉल टूर्नामेंट में अपने अभियान की निराशाजनक शुरुआत की और उसे शुक्रवार को यहां अपने पहले मैच में ही स्वीडन से 0-3 से शिकस्त का सामना करना पड़ा था. स्वीडन की टीम ने भारतीयों की कमजोरी का पूरा फायदा उठाया. उसकी तरफ से मालटिडा विनबर्ग (चौथे मिनट), इडा वीनडेनबर्ग (25वें मिनट) और मोनिका जुसु बाह (90+1 मिनट) ने गोल किये. स्वीडन को चौथे मिनट में ही पेनल्टी किक मिली जिसे विनबर्ग ने गोल में बदला. स्ट्राइकर बाह को पेनल्टी बॉक्स में गिराये जाने के कारण स्वीडन को यह पेनल्टी मिली थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here