मार्नस लाबुशेन ने तोड़ा सर डॉन ब्रैडमैन का रिकॉर्ड, कहा- अब भारत के खिलाफ मौके का इंतजार

106

न्यूजीलैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया ने 279 रनों की बड़ी जीत हासिल कर टेस्ट सीरीज पर 3-0 से कब्जा कर लिया. ऑस्ट्रेलिया की जीत में उसके गेंदबाजों ने अहम रोल अदा किया लेकिन पूरी सीरीज के असल हीरो रहे दाएं हाथ के बल्लेबाज मार्नस लाबुशेन, जिन्होंने 3 टेस्ट मैचों में 91.50 के धमाकेदार औसत से 549 रन ठोके. इस दौरान लाबुशेन ने दोहरा शतक, शतक और 3 अर्धशतक ठोके. लाबुशेन को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज का पुरस्कार भी दिया गया. न्यूजीलैंड के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करने के बाद लाबुशेन ने कहा कि अब उनका अगला मकसद भारत दौरे पर अच्छा प्रदर्शन करना है.

लाबुशेन को मौके का इंतजार
मार्नस लाबुशेन ने न्यूजीलैंड के खिलाफ सीरीज जीत के बाद कहा, ‘बतौर टीम ऑस्ट्रेलिया बेहतरीन प्रदर्शन कर रही है. जिस तरह से मैं गेंद को खेल रहा हूं उससे मैं खुश हूं. अब मुझे भारत दौरे का इंतजार है, अगर मौका मिला तो मैं वहां भी अच्छा प्रदर्शन करने की कोशिश करूंगा.’

बता दें भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 3 मैचों की वनडे सीरीज का आगाज 14 जनवरी से होगा. मुंबई में पहला वनडे खेला जाएगा. उसके बाद 17 जनवरी को राजकोट और तीसरा वनडे 19 जनवरी को बेंगलुरू में होगा. ऑस्ट्रेलिया की वनडे टीम में मार्नस लाबुशेन को भी जगह दी गई है.

लाबुशेन ने तोड़ा ब्रैडमैन का रिकॉर्ड बता दें मार्नस लाबुशेन का बल्ला जमकर रन उगल रहा है. एक मामले में तो उन्होंने डॉन ब्रैडमैन और सुनील गावस्कर जैसे दिग्गजों को भी पीछे छोड़ दिया है. लाबुशेन सिर्फ एक बार अर्धशतक से चूकते हुए सबसे ज्यादा 896 रन बनाने वाले खिलाड़ी बन गए हैं. इस सीजन में लाबुशेन ने पिछली 8 पारियों में 112 की औसत से रन बनाए हैं. जिसमें उन्होंने 185, 162, 143, 50, 63, 19, 215 और 59 रनों की पारी खेली है.

91 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ने से चूके लाबुशेन
वैसे मार्नस लाबुशेन वॉल्टर हैमंड का 91 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ना चूक गए. लाबुशेन ने घरेलू सीजन के 5 टेस्ट मैचों में 896 रन बनाकर नील हार्वे को तो पीछे छोड़ दिया लेकिन वो 905 रन बनाने वाले हैमंड को पीछे नहीं छोड़ सके. लाबुशेन दूसरी पारी में 59 रन बनाकर आउट हो गए और महज 10 रन से रिकॉर्ड बनाने से चूक गए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here