इंदौर टी20: पाकिस्तान को हराने वाली श्रीलंकाई टीम को इंडिया ने किया चित, हासिल की धमाकेदार जीत

105

श्रीलंका की जो टीम पाकिस्तान को टी20 सीरीज में 3-0 से हराकर आई थी, वो टीम इंडिया के सामने चारों खाने चित हो गई. होलकर स्टेडियम में खेले गए मैच में श्रीलंका की टीम पहले बल्लेबाजी कर महज 142 रन ही बना पाई, जवाब में ये लक्ष्य टीम इंडिया ने 15 गेंद पहले ही जीत लिया. टीम इंडिया की जीत में उसके गेंदबाजों और बल्लेबाजों का अहम योगदान रहा. शार्दुल ठाकुर ने 23 रन देकर 3 विकेट लिये. कुलदीप यादव और नवदीप सैनी को 2-2 विकेट मिले. इसके बाद बल्लेबाजों में केएल राहुल ने सबसे ज्यादा 45, श्रेयस अय्यर, शिखर धवन ने 32 और विराट कोहली ने नाबाद 30 रन बनाए. 18 रन देकर 2 विकेट लेने वाले नवदीप सैनी को मैन ऑफ द मैच मिला.

छोटे लक्ष्य को बल्लेबाजों ने आसानी से हासिल किया
भारत के सामने छोटा लक्ष्य था और राहुल ने जिस तरह शुरू में बल्लेबाजी की उससे साफ हो गया था कि टीम एकतरफा जीत दर्ज करने के मूड में है. राहुल के श्रीलंकाई कप्तान लसिथ मलिंगा की लगातार गेंदों पर लगाये गये चौके दर्शनीय थे. इसके बाद लाहिरू कुमारा पर भी उन्होंने लगातार दो चौके जड़कर श्रीलंका की परेशानियां बढ़ा दी. राहुल हालांकि अर्धशतक पूरा नहीं कर पाये. वह वाहिंदु हसरंगा (30 रन देकर दो) की गुगली को समझने में नाकाम रहे और बोल्ड हो गये. राहुल की 32 गेंद की पारी में छह चौके शामिल हैं. इस लेग स्पिनर ने इसके बाद धवन को पगबाधा आउट किया जिसके लिये मलिंगा ने डीआरएस का सहारा लिया. धवन ने अपेक्षाकृत धीमी बल्लेबाजी की और अपनी पारी में दो चौके लगाये.

अब कोहली क्रीज पर थे लेकिन वह तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये उतरे अय्यर थे जिन्होंने पहले दर्शकों का मनोरंजन किया. उन्होंने श्रीलंका के सबसे सफल गेंदबाज हसरंगा के ओवर में दो चौके और लॉन्ग ऑन पर गगनदायी छक्का लगाया. मलिंगा अगले छोर से अपना आखिरी ओवर करने आये तो कोहली ने उनकी शार्ट पिच गेंद को छह रन के लिये भेजा. भारत जब लक्ष्य से छह रन दूर था तब अय्यर ने लाहिरु कुमारा की शॉर्ट पिच गेंद पर लंबा शाट खेलने के प्रयास में कैच दे दिया लेकिन कोहली ने इसी ओवर की तीसरी गेंद पर लॉन्ग लेग पर विजयी छक्का जड़ा. अय्यर ने तीन चौके और एक छक्का जबकि कोहली ने एक चौका और दो छक्के लगाये. भारत की यह श्रीलंका के खिलाफ टी20 में 12वीं जीत है.

श्रीलंका की पहले बल्लेबाजी
श्रीलंका ने टॉस गंवाने के बाद पहले बल्लेबाजी करते हुए नियमित अंतराल में विकेट गंवाये. उसके शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों दानुश गुणतिलका (20), अविष्का फर्नांडो (22) और कुसाल परेरा ने अच्छी शुरुआत की लेकिन भारतीय गेंदबाजों ने उन्हें इसे बड़े स्कोर में नहीं बदलने दिया. धनंजय डिसिल्वा (17) और ओशादो फर्नांडो (10) दोहरे अंक में पहुंचने वाले अन्य बल्लेबाज थे. श्रीलंका ने अच्छी शुरुआत की ओर पहले छह ओवरों में एक विकेट पर 48 रन बनाये. इस बीच अविष्का फर्नांडो ने कुछ अच्छे शॉट लगाये, लेकिन वह फिर से लंबी पारी खेलने में नाकाम रहे और सुंदर पर लंबा शॉट लगाने के प्रयास में अपना विकेट गंवाया. सैनी ने अपने सिर के ऊपर से जा रही गेंद को खूबसूरती से कैच में बदला. सैनी ने इसके बाद गुणतिलका को यार्कर पर बोल्ड किया.

कुलदीप ने ओशादो फर्नांडो को अपनी गुगली के जाल में फंसाया और अगले ओवर में कुसाल परेरा को पवेलियन भेजा जो इस चाइनामैन स्पिनर के खिलाफ खुलकर खेल रहे थे. ठाकुर ने 19वें ओवर में तीन विकेट निकालकर श्रीलंका की 150 रन तक पहुंचने की उम्मीद पूरी नहीं होने दी. सीरीज का तीसरा और अंतिम मैच पुणे में दस जनवरी को खेला जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here