Asian Olympic Qualifier: मनीष और आशीष क्वार्टरफाइनल में पहुंचे, ओलिंपिक टिकट से एक जीत दूर

108

विश्व चैंपियनशिप कांस्य पदक विजेता मनीष कौशिक (63 किग्रा) और एशियाई खेलों के रजत पदक विजेता आशीष कुमार (75 किग्रा) ने गुरुवार को महाद्वीपीय ओलिंपिक मुक्केबाजी क्वालिफायर्स के क्वार्टर फाइनल में जगह बनायी. मनीष को ताईवान के चु एन लाई पर 5-0 से जीत दर्ज करने में कोई समस्या नहीं हुई. अब राष्ट्रमंडल खेलों के रजत पदक विजेता मनीष का सामना मंगोलिया के तीसरे वरीय चिंगजोरिग बातारसुख से होगा. बातारसुख ने पापुआ न्यू गिनी के जोन उमे को पराजित किया.

आशीष ने एकतरफा मुकाबले में जीत हासिल की
वहीं सुबह के सत्र में आशीष ने किर्गीस्तान के चौथी वरीयता प्राप्त ओमुरबेक बेकजीगिट पर एकतरफा मुकाबले में 5-0 से जीत दर्ज की. उनका अगला मुकाबला इंडोनेशिया के मिखाइल राबर्ड मुसकिता से होगा. एशियन चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता आशीष व ताईवान के कान चीया-वेई पर भारी पड़े. भारतीय मुक्केबाज ने 5-0 की दमदार जीत दर्ज करके प्री-क्वार्टरफाइनल मे ंजगह बनाई थी. एशियाई चेपियनशिप-2019 के रजत पदक विजेता आशीष चौधरी ने बाउट जीतने के बाद खुशी व्यक्त की और कहा कि ओलंपियन बनना मेरे लिए लिए सब कुछ है. ओलंपिक में भाग लेना किसी भी खिलाड़ी का सपना होता है. आशीष चौधरी ने इस जीत का श्रेय बॉक्सिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया, प्रदेश बॉक्सिंग फेडरेशन, जिला खेल अधिकारी एवं कोच नरेश वर्मा व परिजनों सहित मित्रों को दिया है.

मुसकिता ने न्यूजीलैंड के रेयान स्कीफी को हराकर अंतिम आठ में प्रवेश किया. आशीष अगर सेमीफाइनल में जगह बनाने में सफल रहे तो उनकी जुलाई अगस्त में टोक्यो में होने वाले ओलंपिक खेलों में जगह पक्की हो जाएगी.

सिमरनजीत और साक्षी भी ओलिंपिक टिकट से एक जीत दूर
बुधवार को महिला मुक्केबाज सिमरनजीत कौर (60 किग्रा) और साक्षी चौधरी (57 किग्रा) ने भी क्वार्टर फाइनल में जगह बनायी थी. सिमरनजीत ने कजाखस्तान की रिम्मा वोलोसेंको को 5-0 से जबकि साक्षी ने थाईलैंड की निलावान टेकसुएप को 4-1 से हराया. सिमरनजीत का सामना अब मंगोलया की दूसरी वरीय नुमुन मोंखोर से होगा जिन्होंने पिछले साल एशियन चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता था. अंतिम आठ में साक्षी का सामना कोरिया की इम एइजी से नौ मार्च को होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here