आयुर्वेद में छिपा है शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने का राज, जानें पांच तरीके

116

दुनियाभर में कोराना वायरस के कहर से हड़कंप मचा हुआ है. इस वायरस के चलते हज़ारों की तादात में लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं लाखों लोग वायरस के संक्रमण से जूझ रहे है. कोरोना वायरस से बचने का एक मात्र उपाय स्वास्थ्य दिशा निर्देशों का पालन करना है जो कि बहुत जरूरी है. कोरोना से बचने के लिए आपको साफ सफाई पर ध्यान देना है. भीड़-भाड़ इलाकों से दूर रहना, समय-समय पर अपने हाथों को धोते रहना आपको कोरोना वायरस से बचा सकता है.

आपकी इम्यूनिटी को बेहतर करने के लिए आयुर्वेद के कई ऐसे नुस्खे है जिसे आज़मा कर आप अपने शरीर की इम्यून सिस्टम को बेहतर कर सकते है. जो आपको कोरोना वायरस से दूर रखेगा.

एक्सपर्ट्स के मुताबिक आयुर्वेद में कुछ ऐसे नुस्खे दिए गए हैं, जिसका पालन कर आप कोरोना के प्रकोप से बच सकते हैं.

शरीर को दुरूस्त रखने के लिए आपको नियमित तौर पर उचित मात्रा में आंवला, एलोवेरा, गिलोय, नींबू आदि का जूस पीना चाहिए. यह आपके इम्यून सिस्टम को स्ट्रॉन्ग करेगा. हू का कहना है कि आपकी मजबूत इम्यूनिटी कोरोना वायरस को टक्कर देने के लिए बड़ा हथियार है.

गर्म दूध में हल्दी मिलाकर पीने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर होती है जो आपको किसी भी तरीके की बीमारी से बचा कर रखेगा.

घर और आस-पास के वातावरण को स्वच्छ रखने के लिए आप नियमित तौर पर नीम की पत्तियों, गुग्गल, राल, देवदारु और दो कपूर को साथ में जलाएं. उसके धुएं को घर और आस-पास में फैलने दें.

आयुर्वेद की माने तो कोरोना से लड़ने के लिए हर घर में मिलने वाली चाय भी कारगर है. रोजाना10 या 15 तुलसी के पत्ते, 5 से 7 काली मिर्च, थोड़ी दालचीनी और उचित मात्रा में अदरक डालकर बनाई गई चाय पीनी चाहिए. य​ह आपको रोगों से बचने में मदद करे.

शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुर्वेद में कुछ विशेष प्रकार के काढ़े भी बताए गए हैं. इनमें अष्टादसांग काढ़ा, गुडूच्यादि काढ़ा, अमृतउत्तरम काढ़ा या सिरिशादी काढ़ा का प्रयोग किया जा सकता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here