मॉडलिंग से जुड़ी पत्नी शराब में देती थी ड्रग्स, बाथरूम में लटका मिला पति का शव

24

एक्टर सुशांत सिंह राजपूत जैसा मामला कर्नाटक के बेंगलुरू शहर से आया है जहां मध्य प्रदेश के रहने वाला युवक का संदिग्ध हालत में शव उसी के फ्लैट में मिला. आरोप है कि मॉडल पत्नी शराब में ड्रग्स मिलाकर पति को देती थी.

बेंगलुरू में मॉडलिंग से जुड़ी अपनी पत्नी शिवानी गोयल द्वारा जबरदस्ती शराब में ड्रग्स दिए जाने की प्रताड़ना से तंग आकर दिनेश मीणा के सुसाइड करने की बात कही जा रही है. दिनेश, मध्य प्रदेश के रायसेन जिले मुख्यालय से 100 किलोमीटर दूर बरेली के ग्राम चारगांव का रहने वाला था. दिनेश के परिजनों ने बरेली थाने में एफआईआर के लिए आवेदन दिया है. मध्य प्रदेश पुलिस, बेंगलुरू से पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है.

मृतक के पिता के द्वारा दिए गए आवेदन में बताया गया है कि उनके पुत्र दिनेश मीणा को उसकी पत्नी शिवानी गोयल और उसकी सहेली साक्षी के अलावा जिस कंपनी में उनका बेटा प्राइवेट काम किया करता था, उसके बॉस राजीव गुप्ता के द्वारा डराया धमकाया गया. साथ ही ड्रग्स एवं शराब का आदी बनाया गया.

चार गांव निवासी दिनेश मीणा 2014 से एलएनसीटी कॉलेज, भोपाल में इंजीनियर का छात्र था और शिवानी गोयल के साथ वर्ष 2019 में भोपाल से बेंगलुरु में नौकरी करने का कहकर पहुंचा था.

2019 से बेंगलुरू में रह रहे दिनेश मीणा का शव 23 सितंबर को बेंगलुरू में उसके फ्लैट के अंदर बाथरूम में शॉवर से लटका मिला. मृतक दिनेश मीणा के पिता राजाराम मीणा के परिजनों ने बरेली थाना पहुंचकर थाना प्रभारी मनोज दुबे को पुलिस अधीक्षक रायसेन के नाम आवेदन दिया.

पुलिस को दिए आवेदन में कहा गया है कि 23 सितंबर को दिनेश की मौत से पहले दिनेश ने अपनी बहन से वीडियो कॉलिंग के माध्यम से बात कर बताया था कि शिवानी गोयल और उसके साथी उसे ड्रग्स देते हैं.

मृतक दिनेश मीणा के परिवारजनों ने भी बताया कि जब वह बेंगलुरू दिनेश के शव को लेने पहुंचे थे, उस समय बेंगलुरू पुलिस ने उनकी एक नहीं सुनी और मौके पर उसकी पत्नी शिवानी गोयल और जिस कंपनी में वह कार्य किया करता था, उसका मैनेजर और उसके अन्य दोस्त भी नहीं थे जबकि दिनेश की पत्नी ने ही अपने मोबाइल नंबर से फोन करके दिनेश की बहन बबली को सूचना दी थी कि उनके भाई ने बाथरूम में जाकर बाथरूम का दरवाजा बंद कर लिया है और वह बाहर नहीं निकल रहे हैं.

रायसेन जिले के बरेली थाना प्रभारी मनोज दुबे ने बताया कि बेंगलुरु से पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ निर्णय लिया जाएगा. साथ ही दिनेश के पिता के द्वारा दिए गए आवेदन को बेंगलुरु पुलिस तक भेजा जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here