कोरोना: इटली में फिर से लगीं कई पाबंदियां, हर दिन आ रहे इतने हजार नए केस

86

इटली (Italy) में कोरोना वायरस ने एक बार फिर से जोर पकड़ लिया है.

प्रतीकात्मक तस्वीर

मिलान: इटली (Italy) में कोरोना वायरस ने एक बार फिर से जोर पकड़ लिया है. बीते दिन 11 हजार से ज्यादा मामले सामने आने के बाद सरकार नए सिरे से लॉक डाउन (Lockdown) लगाने के लिए बाध्य हो गई, जिसके बाद पूरे देश में नए तरह की पाबंदियां लगा दी गई.

पूरे यूरोप में कोरोना का कहर
फ्रांस, स्विट्जरलैंड समेत कई देशों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं. जिसके बाद फ्रांस (France) और अब इटली ने भी नए सिरे से पाबंदियां लागू कर दी है. इसके तहत इटली में अब शाम 6 बजे ही रेस्टोरेंट्स बंद हो जाएंगे. साथ ही एक टेबल पर अधिकतम 6 लोग ही बैठ सकेंगे. इतना ही नहीं, पूरे देश में धार्मिक और स्थानीय त्योहारों को मनाने पर भी रोक लगा दी गई है और भीड़ इकट्ठी करने पर सख्त पाबंदी की ताकीद की गई है. इसके अलावा इटली में कोरोना से निपटने के लिए नए सिरे से नियमावली भी जारी की गई है.

इटली में कोरोना वायरस संक्रमण के 11,705 नए मामले, 69 की मौत
इटली में कोरोना वायरस के मामलों में वृद्धि जारी है. देश में रविवार को संक्रमण के रिकॉर्ड 11,705 नए मामले सामने आए. इटली में मार्च-अप्रैल की तुलना में फिलहाल कोविड-19 परीक्षण (COVID-19 Testing) में भारी इजाफा किया गया है. हालांकि, डॉक्टरों ने चेताया है कि वायरस एक बार फिर कमजोर रोगियों को अपनी चपेट में ले रहा है और अस्पतालों पर बोझ बढ़ता ही जा रहा है. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, रविवार को 750 मरीजों का आईसीयू में उपचार जारी था जोकि पिछले दिन की तुलना में 45 अधिक रहा जबकि 7,000 से अधिक लोगों को भर्ती किया गया. इसके मुताबिक, इटली में पिछले 24 घंटे में 69 मरीजों की मौत हो गई और देश में महामारी फैलने के बाद से अब तक 36,543 लोगों की जान जा चुकी है.

महामारी के असर से निपटने के लिए 47 अरब डालर का पैकज
इटली की सरकार ने कोराना वायरस महामारी से हुई आर्थिक क्षति से निपटने के लिए 40 अरब यूरो (47 अरब डालर) के नये खर्चों की घोषणा की है. रविवार को घोषित इस पैकेज में स्वास्थ्य सेवाओं (Health Services in Italy) पर एक अरब डालर खर्च करने का प्रावधान है. इसमें थोड़े समय के लिए नौकरी से बाहर किए गए कर्मचारियों, कम आय वाले परिवारों की मदद तथा अल्प विकसित दक्षिणी इलाकों की मदद तथा 35 साल से कम उम्र के लोगों को काम पर रखने की लागत कम करने के प्रावधान भी शामिल हैं.

अब संदिग्धों का भी परीक्षण शुरू
इटली में हर रोज कोरोना संक्रमण के दस हजार नए मामले सामने आ रहे हैं. यह संख्या देश में संक्रमण के चरम पर होने के मुकाबले अधिक है, हालांकि उस समय केवल ऐसे रोगियों का परीक्षण हो रहा था, जिनकी हालत अधिक बिगड़ी थी. लेकिन अब संदिग्धों का परीक्षण भी शुरू कर दिया गया है. इटली में कोरोना से अब तक 36,400 लोगों की मौत हो चुकी है. यूरोप (Europe) में ब्रिटेन (Britain) के बाद इटली में सबसे ज्यादा लोगों की इस महामारी से मृत्यु हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here