फैटी लिवर के मरीजों को इन फूड आइटम से करना चाहिए परहेज, जानें

10

फैटी लिवर के मरीजों को ऐसा खाना खाने की सलाह दी जाती है जिससे उनके लिवर पर जोर ना पड़े और ना ही जिस खाने की वजह से लिवर को ज्यादा काम करना पड़े।

फैटी लिवर के मरीजों को अपनी डाइट का ख्याल रखना चाहिए।

Fatty Liver: फैटी लिवर की बीमारी में लिवर पर फैट जमना शुरू हो जाता है। इस बीमारी की वजह से मरीज को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता हैं। इन परेशानियों में लिवर में सूजन, दर्द और अपच की समस्या हो सकती है। ऐसे में यह बहुत जरूरी हो जाता है कि नियमित रूप से दवाईयां लेने के साथ ही डाइट का भी खास ख्याल रखना चाहिए।

फैटी लिवर के मरीजों को ऐसा खाना खाने की सलाह दी जाती है जिससे उनके लिवर पर जोर ना पड़े और ना ही जिस खाने की वजह से लिवर को ज्यादा काम करना पड़े। साथ ही इस बात का ख्याल रखना भी जरूरी है कि किन फूड आइटम से परहेज करना चाहिए।

शराब का सेवन है खतरनाक – फैटी लिवर के मरीज को शराब का सेवन नहीं करना चाहिए। बताया जाता है कि शराब का सेवन करने से लिवर की सूजन बढ़ सकती है। ऐसे में यह बहुत जरूरी है कि शराब का सेवन ना किया जाए। इससे फैटी लिवर के मरीज को और भी ज्यादा परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

सॉफ्ट ड्रिंक्स से रहें दूर – फैटी लिवर के मरीजों को सॉफ्ट ड्रिंक्स से परहेज करना चाहिए। विशेषज्ञों का मानना है कि फैटी लिवर के मरीजों को सॉफ्ट ड्रिंक्स का सेवन करने से लिवर में सूजन बढ़ सकती है। इसलिए कोशिश करें कि जब भी आपको सॉफ्ट ड्रिंक्स पीने की इच्छा हो तो प्राकृतिक ड्रिंक जैसे लस्सी, छाछ और जलजीरा आदि पी सकते हैं।

ऑयली फूड से परहेज करना है जरूरी – फैटी लिवर की समस्या होने पर लिवर में फैट की परत जमने लग जाती है इसलिए यह बहुत जरूरी है कि फैटी लिवर की बीमारी से परेशान लोग घी-तेल से दूरी बनाने की कोशिश करें। क्योंकि ऐसा खानपान आपके लिवर में फैट की मात्रा को और बढ़ सकता है। इस वजह से आपकी परेशानियां और भी बढ़ सकती है।

जंक फूड से हो सकता है नुकसान – फैटी लिवर के पेशेंट को जंक फूड से परहेज करना चाहिए। क्योंकि जंक फूृड में घी-तेल की मात्रा बहुत अधिक होती है। साथ ही ज्यादातर जंक फूड मेदा से बनता है जो कि फैटी लिवर के लिए बहुत ज्यादा नुकसानदायक बताया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here