बिहार: मुजफ्फरपुरम में बच्ची से गैंगरेप के बाद जिंदा जलाने के आरोपी की मां समेत छह हिरासत में

12

बिहार के मुजफ्फरपुर में हैवानियत 12 वर्षीया बच्ची से गैंगरेप और जिंदा जलाकर मारने की घटना में पुलिस ने आरोपित की मां समेत छह को हिरासत में ले लिया है। इनसे पूछताछ की जा रही है। वहीं नामजद चार फरार आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी भी कर रही है। हैवानियत की घटना जिले के साहेबगंज के एक गांव में घटी थी।

मामले में बुधवार को एसएसपी जयंतकांत और एसडीपीओ सरैया राजेश शर्मा ने गांव जाकर छानबीन की। पिता, बहन और दादा-दादी से पूछताछ की। इसके बाद एसएसपी और एसडीपीओ साहेबगंज थाने पहुंचे और थानेदार के साथ इस केस की समीक्षा की। हिरासत में लिए गए लोगों से गहन पूछताछ की। फरार आरोपितों को पुलिस या कोर्ट में समर्पण कराने के लिए चेतावनी दी। एसएसपी ने बताया कि जांच की जा रही है। कुछ लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया है। जल्द आरोपितों की भी गिरफ्तारी होगी। एसएसपी ने पीड़ित परिवार को 24 घंटे में बच्ची का शव बरामद करने का आश्वासन दिया है।

रिश्तेदार का बेटा ही निकला मुख्य आरोपित
एसडीपीओ सरैया ने पीड़िता के पिता से अकेले में पूछताछ की। घटनाक्रम को जाना। इस दौरान पीड़िता के पिता ने अपना धैर्य खो दिया और फफक कर रोने लगे। उन्होंने बताया कि इस कांड का मुख्य आरोपित उनके एक रिश्तेदार का ही बेटा है। अब अपनों पर भी भरोसा कहां रहा।

गांव में हुई पंचायत के निर्णय को नहीं माना :
पिता ने एसडीपीओ को बताया कि उनके समाज के कई लोगों ने मामले को खत्म कराने के लिए दबाव भी बनाया। रविवार को पंचायती भी हुई। इसमें आरोपितों को छह साल के लिए गांव से बाहर निकालने का फरमान भी सुनाया। लेकिन उन्हें अपनी बेटी के लिए इंसाफ चाहिए। इसलिए थाने में एफआईआर कराई।

दादी के साथ चाचा के घर गई थी पीड़िता की बहन
पुलिस को पीड़िता की बड़ी बहन और चश्मदीद ने पुलिस को बताया कि दिन के दस बजे दादा खाना खाकर गांव में टहलने चले गए थे। वह भी दादी के साथ एक चाचा के घर गई थी। बहन घर पर अकेली थी। इस दौरान आरोपितों ने रेप के बाद उसे जिंदा जला दिया।

धमकी देकर बड़ी बहन का मुंह करा दिया बंद :
पीड़िता की बहन ने बताया कि उसे किसी ने जानकारी दी कि उसके घर से धुंआ उठ रहा है। इसपर वह भागकर घर आयी। देखा कि कमरे का दरवाजा अंदर से बंद है। दरवाजा खटखटाने पर खुला। उस वक्त चारों आरोपित अंदर ही थे। उसकी बहन जल रही थी। आरोपित उसे एक कंबल में लपेट रहे थे। उसे भी धमकी दी कि यदि शोर मचाया तो छोटी बहन जैसा हाल कर देंगे। इसपर वह चुप हो गई। इसके बाद आरोपित उसकी छोटी को कंबल में लपेटकर चले गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here