साल के फ्रांसेस टियाफो ने राफेल नडाल का विजय रथ थामा

110

फ्रांसेस टियाफो ने राफेल नडाल का ग्रैंड स्लैम प्रतियोगिताओं में पिछले 22 मैचों से चला आ रहा विजय अभियान थाम कर पहली बार अमेरिकी ओपन टेनिस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई. टियाफो ने आर्थर ऐस स्टेडियम में खेले गए चौथे दौर के मुकाबले में नडाल को 6-4, 4-6, 6-4, 6-3 से हराया. टियाफो इस जीत से अभिभूत थे. टियाफो अभी 24 वर्ष के हैं और उन्हें अमेरिकी ओपन में 22वीं वरीयता दी गई है. वह एंडी रोडिक (2006) के बाद इस प्रतियोगिता के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले सबसे कम उम्र के अमेरिकी खिलाड़ी हैं.

नडाल पर जीत के बाद टियाफो ने कहा,‘‘ मुझे ऐसा लग रहा था जैसे दुनिया थम गई है. एक मिनट के लिए मैंने कुछ नहीं सुना.’’ टियाफो का सामना अब आंद्रे रुबलेव से होगा, जिन्होंने सातवीं वरीयता प्राप्त कैमरन नोरी को 6-4, 6-4, 6-4 से हराया. नडाल ने इस साल जनवरी में ऑस्ट्रेलियाई ओपन और जून में फ्रेंच ओपन का खिताब जीता था. इसके बाद उन्होंने जुलाई में विंबलडन के सेमीफाइनल में जगह बनाई थी लेकिन पेट की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण वह टूर्नामेंट से हट गए थे.

अमेरिकी ओपन में चार बार के चैंपियन नडाल इसके बाद केवल एक टूर्नामेंट में खेल पाए थे. महिला वर्ग में शीर्ष वरीयता प्राप्त इगा स्वियातेक ने पहला सेट गंवाने के बाद शानदार वापसी करके जूल नेमीयर को 2-6, 6-4, 6-0 से हराया. वह पहली बार फ्लशिंग मीडोज में क्वार्टर फाइनल में पहुंची हैं.

स्वियातेक का सामना अब आठवीं वरीयता प्राप्त जेसिका पेगुला से होगा जिन्होंने दो बार की विंबलडन चैंपियन पेत्रा क्वीतोवा को आसानी से 6-3, 6-2 से पराजित किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here